नई दिल्ली। आपने कई बार सुना होगा कि सुरक्षा कारणों के चलते किसी इंसान या जगह की रक्षा के लिए पुलिस कर्मियों को तैनात किया जाता है. किसी व्यक्ति को सुरक्षा की जरूरत तब होती है जब उनके जान पर खतरा हो या किसी जगह पर वाद-विवाद की नौबत आ आए.

लेकिन क्या आपको पता है कि उत्तर प्रदेश पुलिस को वाराणसी में तैनात किया गया है. लेकिन यूपी पुलिस ने ऐसा न तो किसी इंसान के लिए और न ही किसी जगह की देखभाल के लिए किया है. ये सुरक्षा-व्यवस्था की गई है कि एक पौधे की देखभाल के लिए.

पीपल के पेड़ की सुरक्षा करती यूपी पुलिस

बिलकुल, यूपी के अर्दली बाजार स्थित इमाम चौक पर दो पुलिसकर्मियों को एक पौधे की सुरक्षा में लगाया गया है. ये पौधा है पीपल का पौधा. इतना ही नहीं इन पौधों की सुरक्षा सीसीटीवी कैमरों से भी की जा रही है. अब आपको बताते हैं कि आखिर यूपी पुलिस को ये अनोखा काम दिया क्यों गया है?

जरुर पढ़ें:  खाने की डिलिवरी से पहले खाना खाने से डिलीवरी बॉय को मिली ये सज़ा!

यूपी पुलिस वाराणसी के अर्दली बाजार स्थित इमाम चौक पर 24 घंटे एक पीपल के पौधे की सुरक्षा में लगी हुई है. दरअसल यहां स्थित पीपल के पेड़ को दूसरे पक्षों ने नुकसान पहुंचाने की बार-बार कोशिश की. असमाजिक तत्वों की हरकतों से परेशान होकर इलाके के लोगों ने पुलिस-प्रशासन से पौधे की सुरक्षा की गुहार लगाई थी.

पीपल का पौधा (Demo Pic)

इमाम चौक के बगल में दशकों पुरानी पीपल का पेड़ लगा हुआ था. कुछ महीने पहले ही ये पुराना पीपल का पेड़ गिर गया था. लेकिन अब वहीं पर एक नया पीपल का पौधा लगाया गया है. दूसरे पक्ष की इच्छा थी कि पीपल का पौधा रास्ते से हटाकर कुछ दूर आगे मैदान में लगाया जाए. लेकिन कुछ लोग यहीं पर पौधा लगाना चाहते थे. इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया.

जरुर पढ़ें:  विडियो : मुस्लिम शख्स को सपने में दिखे राम, तो बेटे के साथ धर्म परिवर्तन करके बन गया हिंदू

विवाद के बीच दूसरे पक्ष के लोग बार-बार पीपल के पौधे को उखाड़ देते थे. जिसके बाद इलाके के लोगों ने वाराणसी पुलिस से पौधे की सुरक्षा के लिए मदद मांगी. लोगों की मांग के बाद यूपी पुलिस ने पीपल के पेड़ की सुरक्षा के लिए हामी भर दी. बता दें कि यहां पर सालों से सभी समुदाय के लोग मिलजुलकर साथ रहते आए हैं. लेकिन पौधे के चलते इलाके में विवाद खड़ा हो गया. जिसपर यूपी पुलिस को ये काम करना पड़ा.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here