हाल ही में देश ने डिमोनेटाइजेशन के बाद जनता को बैंकों को लंबी-लंबी लाइनों में लगना पड़ा था और पैसा होते हुए भी आर्थिक संकट का सामना करना पड़ा था। नोटबंदी ने रातों-रात पूरे देश में हड़कंप मच दिया था। 1000 और 500 के नोट बंद कर आरबीआई ने नए 2000 और 500 के नए जारी किए हैं। ये नोट पुराने नोटों से बिलकुल अगल हैं, लेकिन अब ख़बर ये आ रही है, कि फिर से 2000 रुपए का नोट बंद होने वाला है, और इसकी जगह 200 रुपए का नोट लेने वाला है। इस खबर के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद लोग इस सच मानकर फिर सदमें में आ गए हैं। और डरने लगे हैं, कि सरकार फिर कहीं उन्हें बैंकों की कतार में ना खड़ी कर दें।

Demo pic

इन दिनों सोशल मीडिया अफवाहों की मंडी बन गया है और यहां हर रोज़ अफवाहों की सौदेबाजी होती है, अफवाहों के दलाल इन्हें फैलाते हैं और लोगों में भ्रम पैदा कर मजे लेते हैं। लेकिन ऐसे ही अफवाहबाज़ों की कारगुजारी को उजागर करने के लिए TVP ने वायरल पड़ताल की शुरूआत की है, जिसमें हम खबरों की तह में जाकर उनकी सच्चाई आप तक पहुंचाते हैं। सोशल मीडिया पर वायरल 2000 के नोट के बंद होने की ख़बर की भी हमने पड़ताल की, तो पाया कि ये खबर आधी सच है और आधी झूठ

जरुर पढ़ें:  अफवाहबाज़ों को दिव्यांका त्रिपाठी का संदेश मैं जिंदा हूं, जीते जी मत मारो

पहले बात 200 रुपए के नोट की, सोशल मीडिया पर वायरल इस ख़बर में दावा किया जा रहा है, कि 200 रुपए का जो नया नोट होगा, उसका डिजाइन बिलकुल 2000 और 500 रुपए के नए नोट की तरह होगा, सिर्फ इसका कलर ही अलग होगा। इस ख़बर के साथ नोट की एक फोटो भी शेयर की जा रही है, जिसका कलर हल्का बैंगनी और नीला है। इस पोस्ट में ये भी दावा किया जा रहा है, कि ये नोट छपना शुरू हो गया और 2000 के नोट की छपाई बंद हो गई है और इसे बंद करने की तैयारी है, जबकि इसकी जगह सिर्फ 200 रुपए के नोट ही चलेंगे।

जरुर पढ़ें:  आखिर लोग क्यों पीट रहे हैं मोदी के हमशक्ल को? ये है असली वजह..

Trendingviralpost.com की पड़ताल

2000 के नोट बंद होंगे और 200 के नोट आने के दावे की जब हमने पडताल की, तो ये बात आधी सच और आधी झूठ निकली। यानि खबर को माल-मसाला लेकर पेश किया गया था। दरअसल ये खबर तो सच है, कि आरबीआई जल्द ही 200 रुपए का नया नोट मार्केट में लेकर आने वाला है, लेकिन जिस नोट की फोटो वायरल की जा रही है, वो आरबीआई की ओर से जारी नोट की तस्वीर नहीं है। अब ये तस्वीर असली है या फोटोशॉप इस बात की सच्चाई नोट आने के बाद ही पता चल पाएगी। लेकिन 2000 के नोट बंद होने वाले खबर की सच्चाई इस दावे से एकदम अलग निकली। आरबीआई के सूत्रों के मुताबिक 2000 के नोटों में बड़ा घोटाला हो रहा है, बडे पैमाने पर जमाखोर इन नोटों को जमा कर रहे हैं। आरबीआई की माने तो उसने 2000 के नोटों की पर्याप्त छपाई की है, लेकिन ये बैंकों के पास वापस नहीं आ रहे हैं, इस वजह से मार्केट में 2000 के नोटों की शॉर्टेज हो गई है।

जरुर पढ़ें:  वायरल सच : मोदी सरकार देश में ले आई ऐसी मशीन कि एक दिन में 5 किलोमीटर नहर का करेगी निर्माण..
Reserve bank of India

आरबीआई के सूत्र ये भी बता रहे हैं, कि नोटों की संख्या पूरी होने की वजह से 2000 रुपए के नोट की छपाई बंद कर दी गई है। हालांकि ज़रुरत पड़ने पर इऩकी छपाई दोबारा शुरू की जा सकती है। लेकिन नोट के बंद होने की जो खबर उड़ाई जा रही है, वो सरासर झूठ है। तो वायरल पड़ताल में 200 के नए नोट के आने की ख़बर तो आधी सच निकली लेकिन 2000 के नोट बंद होने की खबर पूरी तरह झूठ पाई गई।

Loading...