रात और अंधेरा दोनों एक दूसरे के पूरक हैं, रात होगी तो अंधेरा होगा और रात जितनी गहरी होगी अंधेरी भी उतनी ही भयानक होगा। लेकिन क्या रात उजाले से भरी हो सकती है, और वो भी इतना उजाला, कि दिन और रात के बीच का फर्क ही मिट ही जाए। ऐसा कभी नहीं हो सकता, लेकिन दावा किया जा रहा है, कि नासा की रिपोर्ट के मुताबिक ऐसा होने वाला है और वो रात जल्द ही आने वाली है। वायरल मैसेज में नासा के हवाले से जो दावा किया जा रहा है, उसके मुताबिक ये रात 12 अगस्त को होगी। यानी रात दिन जैसी होगी, जिसमें उजाला और सिर्फ दिन होगा।
फेसबुक पर वायरल मैसेज- 

इस खबर को लोग बड़ी ही तेजी के साथ वायरल कर रहे हैं। इसमें नासा के हवाले से बताया जा रहा है, कि नासा के वैज्ञानिकों ने ये कन्फर्म किया है, कि 12 अगस्त की रात को उजाला ही उजाला होगा, जिसका देखना सभी के लिए फायदेमंद होगा। ये घटना मानव इतिहास में पहली बार हो रही है और आने वाले 96 साल तक ये दोहराई नहीं जाएगी। इस खबर से सभी हैरान है, कि ऐसा कैसे हो सकता है, कि रात हो ही ना। जब ये खबर खूब वायरल होने लगी तो हमने इसकी सच्चाई की पड़ताल की और इस वायरल मैसेज की असलीयत जानने की कोशिश की।

जरुर पढ़ें:  सलमान खान की कॉलेज मार्कशीट देखी है? आगरा से पढ़े हैं सलमान !

trendingviralpost.com की पड़ताल

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस पोस्ट में दावा किया जा रहा था, कि नासा के वैज्ञानिकों ने ये कन्फर्म किया है। इसलिए इस मैसेज की पड़ताल करने के लिए सबसे पहले हम नासा की बेवसाइट पर ही गए। वहां हमने इससे जुड़े तथ्य खंगालने शुरू किए, तो हमें वो लिंक मिल गया जिसके आधार पर ये दावा किया जा रहा है।

NASA की वेबसाइट पर लगी लिंक

नासा की बेवसाइट पर हम गए तो, हमें वो लिंक मिल गया। यानी ये खबर सच थी। लेकिन अभी इस ख़बर की पुष्टी होनी बाकी थी। जैसा कि, आप देख सकते हैं, कि जो लिंक नासा की बेवसाइट पर दिया गया है, उसमें भी ये दावा किया जा रहा  है, कि 12 अगस्त 2017 को मेट्यों शावर होगा। जो रात में किया जाएगा, जिसकी वजह से 96 सालों में मेट्यों शावर सबसे ज्यादा रोशनी करेगा। जिससे रात के अधेंरे में भी उजाला होगा, लेकिन इस उजाले का अहसास लोगों को नहीं होगा। आपको बता दें नासा साल में तीन बार मेट्यो शावर करता है। जो पहला जनवरी के महिने में, दूसरा अगस्त में और तीसरा दिसम्बर में, लेकिन इस बार का मेट्यो शावर हर साल के मेट्योशावर के मुकाबले कही ज्यादा रोशनी देगा।

जरुर पढ़ें:  Google के नाम पर हर्षित के साथ हुआ फ्रॉड, फर्जी है 1.44 करोड़ के ऑफर की ख़बर

तो हमारी पड़ताल में नासा की ओर से किया जा रहा ये दावा झूठा निकला, जिसमें रात में दिन जैसा उजाला होने की अफवाह फैलाई जा रही है। तो अगर आपको ये भी मैसेज मिले, तो उसपर यकीन करने से पहले। भेजने वाले को  ये लिंक सेंट कर दें। ताकि मैसेज भेजने वाले को भी सच्चाई का पता चल सकें। और आगे इस तरह का भ्रामक और झूठा मैसेज वायरल होने से बच सके।

Loading...