नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर आए दिन एक न एक फेक तस्वीर, हमारा ध्यान अपनी ओर खींच लेती है। बड़ी ही तेजी के साथ ये पिक्चर्स वायरल भी हो जाते हैं। इसी स्पीड में एक और वायरल तस्वीर जुड़ने जा रही है या कह लीजिए ट्रैन का डब्बा। जी हां इन दिनों फेसबुक पर एक फोटो वायरल हो रही है, जिसमें ट्रेन का एक डब्बा दिख रहा है। आप कहेंगे ट्रेन के डब्बे में ऐसा क्या खास है। जी खुद देख लीजिए ये स्पेशल ट्रेन का डब्बा।

जी हाँ आपने सनरूफ कार तो जरूर देखी होगी, लेकिन अब मार्केट में ये सनरूफ ट्रेन का डब्बा भी आ गया है। आप देख सकते हैं ट्रेन में कोई सीट नहीं है। अंदर से ट्रेन आम ट्रेन के डब्बों से एकदम अलग है। काफी लोग ट्रेन में खड़े हैं। ऐसा लग रहा है मानो एक्टर शाहरुख खान के गाने छैया-छैया को लोग काफी एन्जॉय कर रहे हों।

जरुर पढ़ें:  Google के नाम पर हर्षित के साथ हुआ फ्रॉड, फर्जी है 1.44 करोड़ के ऑफर की ख़बर

इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर के साथ एक मैसेज भी है। मैसेज में लोगों ने सरकार को खूब कोसा है। देखिए ये मैसेज… लोकल ट्रेनों में AC की सुविधा देकर मोदी जी ने विपक्ष के मुँह पर मारा तमाचा और कहां होता है ऐसा विकास।

इस मैसेज के जरिए सरकार को लापरवाह बताया जा रहा है। साथ ही सरकार को रेलवे की इस हालत का दोषी भी
ठहराया जा रहा है। रेलवे की ये दशा देखकर हमें भी जिज्ञासा हुई इस तस्वीर की वायरल पड़ताल कर इसकी जांच करने की।

वीके न्यूज़ की मुहिम फाइट अगेंस्ट फेक न्यूज़ ने इस तस्वीर की जांच की और पाया कि दरसअल ये तस्वीर कहलगांव की है। आपको बता दें कि कहलगांव बिहार के भागलपुर में है। कहलगांव से 90 किलोमीटर दूर जमालपुर में रेलवे का एक बड़ा कारखाना है। ये एशिया का सबसे बड़ा रेलवे कारखाना है।

जरुर पढ़ें:  अनील अंबानी ने बेटे के बर्थ-डे पर 2000 और 500 के नोटों से सजाया घर ?

कहलगांव सुप्रिडेंट ने एक वेब चैनल से बातचीत के दौरान बताया कि जमालपुर रेल कारखाने से ट्रेन के पहिए लाने और ले जाने में ये बिना छत की बोगी का इस्तेमाल किया जाता है। इस बोगी को सामान को ढोने के हिसाब से ही डिज़ाइन किया गया है। इस बोगी को जरूरत के हिसाब से किसी भी ट्रेन में जोड़ दिया जाता है। इस बोगी में पैसेंजर्स को यात्रा करने की अनुमति नहीं है।

लेकिन कभी-कभी कुछ पैसेंजर्स जगह न मिलने पर इसमें भी चढ़ जाते हैं और यह फोटो उसी समय का होगा। उन्होंने बताया कि मालगाड़ी से ऐसा करना थोड़ा महंगा होता है, इसलिए इस तरह के बोगी का इस्तेमाल होता है।

जरुर पढ़ें:  11 रुपये में मिल रहा है रेडमी नोट 6 प्रो .

तो देखा, बिना किसी बात के सरकार को बदनाम किया जा रहा था। अगर आपके पास भी कोई वायरल तस्वीर, पोस्ट या मैसेज हो तो हमारे साथ शेयर करें। वीके न्यूज़ की मुहिम फाइट अगेंस्ट फेक न्यूज़ जारी है, जो पड़ताल कर आपको सच्चाई से अवगत कराएगी।

Loading...