कल यानी 15 अगस्त को पूरे देश में आजादी का जश्न मनाया जाएगा। हर साल की तरह भी इस साल भी हर स्कूल में तिरंगा लहराएगा, लेकिन सोशल मीडिया पर जो खबर वायरल हो रही है, उसके मुताबिक इस बार पश्चिम बंगाल में स्वतंत्रता दिवस नहीं मनाया जाएगा। इस खबर में बताया जा रहा है, केंद्र की ओर से सभी स्कूलों में स्वतंत्रता दिवस मनाए जाने के सर्कुलर पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने अमल न करने के निर्देश दिए हैं। जब ये खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी तो क्या ये सच है, ये जानने के लिए हमने इसकी पड़ताल शुरू की।

ममता बनर्जी

इस वायरल मैसेज की पड़ताल करने पर trendingviralpost.com के हाथ इस खबर की असली सच्चाई लगी। आपको बता दें, कि इससे पहले भी वहां की सीएम ममता बैनर्जी के बारे कई तरह की अफवाहें फैलाई गई थीं, उनमें से एक उनके मुसलमान होने की भी है, लेकिन ये बातें और अफवाहें झूठी साबित हुई। लेकिन इस बार फिर पंश्चिम बंगाल की सीएम को निशाने पर लेते हुए ये पोस्ट वायरल की जा रही है, कि उन्होंने स्वतंत्रता दिवस नहीं मनाने का आदेश दिया है। इसे सोशल मीडिया के जरिए लोगों तक पहुंचाया जा रहा है। इस मैसेज में लिखा है-

‘पंश्चिम बंगाल के स्कूलों में 70 सालों में पहली बार स्वंतत्रता दिवस नहीं मनेगा’

Demo pic

लेकिन आपको बता दें, कि ये मैसेज और इसमें दी गई जानकारी झूठी है, इसमें थोड़ी सच्चाई है लेकिन इसे तोड़-मरोड़कर, बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया जा रहा है। दरअसल सीएम ममता बनर्जी और मोदी सरकार के बीच चल रही जंग जगजाहिर है। इसी वजह से पश्चिम बंगाल ने राज्य सरकार के स्कूलों में केंद्र सरकार के सर्कुलर के मुतबिक स्वतंत्रता दिवस नहीं मनाने के लिए कहा गया है। आपको बता दें, कि केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय की ओर से 7 अगस्त को सर्कुलर जारी किया गया है जिसमें स्कूलों को मंत्रालय के तय फॉर्मेट के मुताबिक स्वतंत्रता दिवस मनाने को कहा गया है। सर्कुलर के मुताबिक स्कूलों को 9 अगस्त से 30 अगस्त के बीच शहीद स्मारक के पास संकल्प प्रोग्राम आयोजित करना होगा।

जरुर पढ़ें:  रेलवे स्टेशन पर इस हाल में मिले Big Boss के Swami Om, सरेआम की गंदी हरकत
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

अब इस सर्कुलर पर ममता बनर्जी ने सभी स्कूलों से कहा है, कि इसे न माना जाए और हर साल जैसा स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता था, वैसे ही मनाएं। अब इसी खबर को वायरलबाज़ों ने पलटकर ये बना दिया, कि पश्चिम बंगाल की सीएम ने आजादी का जश्न मनाने से इनकार कर दिया है, जबकि ऐसाै नहीं है। वहां इस बार भी हर बार की तरह इस बार ही स्वतत्रंता दिवस मनाया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

इस सर्कुलर पर ममता बर्नजी का कहना है, कि कार्यक्रम हर साल की तरह ही मनाया जाएगा, क्योंकि देशभक्ति किसी पर थोपी नहीं जाती है। वहीं ममता बनर्जी की इस फैसले को केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावेडकर ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। तो trendingvitalpost.com TVP की पड़ताल में ये ख़बर झूठी निकली।

Loading...