फाइटिंग शो में अगर कोई शो सबसे ज्यादा देखा जाता है, वो है इंटरनेशनल WWE। ये खेला तो विदेशों में जाता है, लेकिन इसे देखने वाले दीवाने इंडिया में कम नहीं हैं। इस खेल में खतरनाक फाइटर और उनकी फाइट से दर्शकों को एंटरटेन किया जाता है। देखने वालों के मन में अक्सर ये सवाल हमेशा ही आता है, कि क्या ये फाइट असली होती है या फिर ये सब फिक्स होता है? यहां खेले गए खेल में हार-जीत तय होती है,या इसमें एक-दूसरे का खून बहाकर फाइट जीती जाती है? तो चलिए आज इन्हीं सभी सवालों के जवाब हम आपको देते हैं।

WWE Fight

पहले से होता है सब फिक्स

आप शायद इस बात से वाकिफ ना हो, कि जैसे एक शो के सभी सीन राइटर लिखता है, वैसे ही WWE की फाइट सीन भी राइटर लिखकर इसकी स्क्रिप्ट तैयार करते हैं और फिर इस खेल को खेला जाता है यानी फाइट में पहले से ही सब फिक्स होता है, कि कौन जीतेगा और कौन हारेगा।

जरुर पढ़ें:  12 अगस्त नहीं होगी रात ? ये रही वायरल ख़बर की पूरी सच्चाई
WWE Fight

फाइट की दी जाती है ट्रेनिंग

जब फाइटर्स के बीच खतरनाक फाइट होती है, तब ये सोचा जाता है, कि इन्हें दर्द नहीं होता है क्या? लेकिन ऐसा नहीं है इन्हें पहले से ही हर चीज की ट्रेनिंग दी जाती है, कि कहां और किस जगह वार करना है, ताकि फाइटर को कम चोट आए, इसलिए जिन फाइटर को आप लड़ते देखते हैं, उन्हें कोई दर्द नहीं होता है।

Demo pic- WWE Ring

कैसा होता है फाइट रिंग?

WWE में आपने फाइट रिंग तो ज़रुर देखा होगा। जिस रिंग पर फाइटर्स लड़ते हैं, वो कितना सख्त होता है। लेकिन बता दें, कि उस रिंग को लड़की और स्प्रिंग की मदद से बनाया जाता है, जिससे रेसलर्स को दर्द कम होता है। इस रिंग की खास बात ये है, कि इसके नीचे एक माइक लगा होता है, जिससे आवाज गूंजती है और लोगों को ऐसा लगता है कि फाइटर को ज्यादा जोर से लग रहा है।

जरुर पढ़ें:  क्या वाकई अखिलेश यादव के गाने पर नाच रही है यूपी पुलिस ?

जीतने के मिलते है कम पैसे

WWE में जो फाइट होती है, वो पहले से फिक्स होती है, ये तो आप जान ही गए हैं। लेकिन बता दें, कि फाइट में जो हारता है, वो ज्यादा पैसे लेता है और जीतने वाले को कम पैसे मिलते है।

WWE Dangerous Fight

ब्लड इंजरी

WWE में जिस फाइट में आप लड़ाई देखते हैं, जिसमें कुर्सी, हथौड़े का इस्तेमाल किया जाता है, वो सभी समान हलके बने होते हैं, तभी असानी वो टूट जाते हैं। लेकिन फाइट में जो ब्लड इंजरी दिखाई जाती है, वो एक दम असली होती है। यानी आप WWE की फाइट देखते हैं, उसमें आधी चीजें फेक दिखाई जाती है और कुछ चीजें असली होती हैं।

Loading...