पाकिस्तानी टीम को बैन करने की मांग, कोर्ट में दायर की याचिका..

पाकिस्तान जब जब भारत के खिलाफ मैदान में उतरा है उसे हर बार करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है. फिर चाहें वो जंग का मैदान हो या फिर क्रिकेट का मैदान. 16 जून को हुआ भारत-पाक वर्ल्डकप तो आपने देखा ही होगा और नतीजे से भी आप वाकिव होंगे. अगर नहीं पता तो हम आपको बता देते हैं. वर्ल्डकप का बिगुल बजने के साथ ही 16 जून को हुए उस मैच की धूम देश भर में गूंज उठी थी. और मैच में पाकिस्तानियों को लगातार 7वी बार पस्त करने के बाद तो भारतीय टीम पूरी दुनिया में छा गई.

भारतीय खिलाड़ियों की जबरदस्त पारी इस मैच को ऐतिहासिक बना दिया. पाकिस्तान को 89 रनों से हराकर भारतीय खिलाड़ियों ने जीत का नया रिकॉर्ड कायम किया. जिसके बाद पूरे भारत में जश्न का माहोल बन गया. हर गली नुक्कड़ पर पटाखों की आवाज, और पाकिस्तानियों की खिल्लियों की आवाज आने लगी. आम इंसान से लेकर बड़े सेलेब्स तक भारतीय खिलाड़ियों को इस जीत के लिए बधाइयां देने लगे. लेकिन दूसरी तरफ पाकिस्तान को ये मैच हारना बहुत भारी पड़ता नजर आया.

जरुर पढ़ें:  चुनावी नतीजों के बाद भोपाल में मिर्ची वाले बाबा की हवन की निकली हवा, बीजेपी कार्यकर्ताओं ने दें दी समाधि

जहां भारतीय लोग पाकिस्तान की खिल्ली उड़ाते नजर आए तो वहीं पाकिस्तानियों ने भी अपने मुल्क के खिलाड़ियों का मजाक उड़ाने और उन्हें शर्मिंदा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी. इस खराब पारी के बाद हर जगह पाकिस्तानी खिलाड़ियों को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ रहा है. नौबत तो यहां तक आ गई है कि पाकिस्तानी टीम के क्रिकेट खेलने पर भी अब सवाल उठाए जा रहे हैं. लोग पाकिस्तानी खिलाड़ियों को बैन करने की मांग तक कर रहे हैं. यहां तक कि पाकिस्तान के ही एक प्रशंसक ने गुजरांवाला अदालत में याचिका दायर कर टीम पर प्रतिबंध लगाने के साथ चयन समिति को बर्खास्त करने की मांग तक की है.

जरुर पढ़ें:  आईपीएल में रिकॉर्ड बनाने वाले जोसेफ माँ के देहांत पर भी मैदान पर खेलने उतरे थे

कोर्ट में दायर याचिका में याचिकाकर्ता ने क्रिकेट टीम पर प्रतिबंध के साथ मुख्य चयनकर्ता इंजमाम उल हक की अगुआई वाली चयन समिति को भंग करने की मांग की है. हालांकि अभी तक याचिकाकर्ता के बारे में पता नहीं चल पाया है.

वहीं इस याचिका के जवाब में गुजरांवाला कोर्ट ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों को तलब किया है. इस बीच ऐसी खबर मिली है कि पीसीबी संचालन मंडल की बुधवार को लाहौर में होने वाली बैठक में कोच और चयनकर्ताओं के साथ प्रबंधन के कुछ अन्य सदस्यों की छुट्टी करने पर फैसला हो सकता है.

बता दें कि जिन लोगों की छुट्टी होने की संभावना है उनमें टीम के मैनेजर तलत अली, गेंदबाजी कोच अजहर महमूद और पूरी चयन समिति शामिल है. इसके साथ ही कोच मिकी अर्थर के कार्यकाल खत्म कर दिया जाएगा.

जरुर पढ़ें:  RJD का घोषणा पत्र जारी, जानिए क्या है RJD के बड़े वादे..

 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here