एशिया कप-2018 में इस बार शुरु से ही भारत का शानदार प्रदर्शन देखने को मिला है..दर्शकों को मैंच देखने में आनन्द तो तब आया जब टीम इंडिया और अफगानिस्तान के बीच सुपर-4 मुकाबला ड्रॉ खेला गया. मैच में कई अंपायर के ऐसे फैसले सामने आए जो बिलकुल गलत साबित हुए. साथ ही अंपायर के डिसीजनों पर फैन्स को काफी गुस्सा होते देखा गया.

बता दें कि अंपायर ने जब दिनेश कार्तिक और एमएस धोनी को गलत आउट दे दिया तो दर्शक हैरान हो रह गए. किसी को उम्मीद नहीं थी कि अंपायर ऐसा फैसला सुनाएंगे. धोनी इस बात को देखकर काफी हैरान हो गए और साथ ही भड़क भी गए.. क्यो कि धोनी को साफ दिख गया था वह आउट नहीं हैं फिर भी अंपायर ने आउट दे दिया. इस बात का गुस्सा उन्होंने मैच के बाद प्रेसेंटेशन में निकाला.

जरुर पढ़ें:  आईपीएल के सीक्रेट लवर कौन है ये तो जान लीजिए

दरअसल धोनी एक ऐसे खिलाड़ी जिनका फैसला कभी भी गलत साबित नही होता है. और इनके फैसले के आगे अंपायर को भी अपना फैसला वापस लेना पड़ता है. धोनी रिव्यू लेने में कभी पीछे नहीं हटते हैं. यही नही बल्कि लोग धोनी के इस चमत्कार भरे सिस्टम को लोग धोनी रिव्यू सिस्टम के नाम से भी पुकारते हैं.

धोनी भड़क गए अंपायर पर

मैच के बाद जब प्रेसेंटेशन के लिए बुलाया गया तो उन्होंने कहा- ‘दो रन आउट गलत हुए और कई विकेट ऐसे गिरे जिनके बारे में मैं कुछ कहना नहीं चाहूंगा. क्योंकि मैं नहीं चाहता कि फाइन कटा जाए.’ धोनी ने गलत फैसलों पर कुछ कहा तो नहीं लेकिन बातों-बातों में बता दिया कि वो काफी गुस्से में हैं. बता दें ये गलत फैसला ग्रेगोरी ब्रेथवेट ने दिया था. जो एशिया कप-2018 में अंपायरिंग कर रहे हैं.

जरुर पढ़ें:  गौतम गंभीर ने खोली विराट कोहली की पोल, बताया इसलिए कोहली देते हैं गाली
अंपायर ग्रेगोरी ब्रेथवेट

बता दें कि एमएस धोनी 696 दिन बाद फिर टीम इंडिया के लिए कप्तानी करने उतरे हैं. 200वें वनडे में कप्तानी करने वाले वो पहले एशियन खिलाड़ी बन चुके हैं. धोनी के अलावा किसी भारतीय या एशियन टीम के खिलाड़ी ने 200 वनडे में कप्तानी नहीं की है. इससे पहले ऑस्ट्रेलियन खिलाड़ी रिकी पॉन्टिंग (230 वनडे) और न्यूजीलैंड खिलाड़ी स्टीफन फ्लेमिंग (218 वनडे) में कप्तानी कर चुके हैं. धोनी 200वें वनडे में कप्तानी करने वाले तीसरे कप्तान बन चुके हैं.

विडियो देखे- 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here