कल इंडियन क्रिकेट फैन्स के लिए एक बुरा दिन था. वर्ल्डकप के जीत की जश्न में डूबे फैन्स को बिल्कुल भी अंदेशा नहीं था कि वर्ल्डकप 2019 की सबसे प्रबल दावेदार टीम टूर्नामेंट में ऐसे बाहर हो जाएगी. कल भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला सेमीफानल खेला गया जिसमें न्यूजालैंड ने भारत को 18 रनों से हरा दिया. मैच हारते ही करोड़ो फैन्स के साथ-साथ खिलाडियों की भी आंखे नम थी.

पहले बल्लेबीजी करते करते हुए न्यूजीलैंड ने 239 रन बनाए. जवाब में टीम इंडिया 221 रनों पर ही सिमट गई. एक समय ऐसा था जब टीम इंडिया ने 92 रन देकर 6 विकेट गंवा दिए थे, जिसके बाद फैन्स जीत की सारी उम्मीदें छोड़ चुके थे. जिसमें रोहित, केएल राहुल और कोहली मात्र 1 रन बनाकर आउट हो गए. लेकिन फिर सातवें विकेट के लिए धोनी और सर जडेजा ने 116 रनों की साझेदारी कर फैन्स में जोश जगाया और टीम इंडिया को मैच में वापस ला दिया. जडेजा के 77 रनों ने टीम को जीत की तरफ पहुंचाना जरूर चाहा पर 48वें ओवर आउट हो गए. जिसके बाद क्रीज पर सिर्फ एक मात्र बल्लेबाज धोनी  बचे  थे और दूसरे छोर पर थे भूवनेश्वर कुमार.

जरुर पढ़ें:  न्यूजीलैंड की हार से बौखलाया पाकिस्तान, देखिए

पूरा बैटिंग ऑडर फ्लॉप होने के बाद सारा दारोमदार धोनी के कंधो पर था. फैन्स को उम्मीदें थी धोनी अब बड़े शॉट्स लगाकर टीम को जीत दिलाएंगे, लेकिन 49 वें ओवर में फर्गूसन पहली गेंद पर तो धोनी ने छक्का जड़ दिया लेकिन दूसरी गेंद पर 2 रन लेने की जल्दबाजी धोनी को भारी पड़ गई. गप्टिल के थ्रो से धोनी 50 रन बानकर रन आउट हो गए और टीम मैच यहीं हार गई थी.

लेकिन अब कहा जा रहा है कि धोनी को रन आउट देना अंपायर की गलती थी. ऐसा हम नहीं बल्कि पूरा सोशल मीडिया कह रहा है. सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है जिसके मुताबिक जिस बॉल पर धोनी आउट हुए, उस वक्त अंपायरों से बड़ी गलती हुई थी.

जरुर पढ़ें:  वैज्ञानिकों ने बनाया सस्ता बैट, जानिए क्या है खासियत

48वें ओवर में जब धोनी बल्लेबाजी कर रहे थे तो उस वक्त न्यूजीलैंड के 4 खिलाड़ी 30 गज के घेरे के अंदर थे, लेकिन धोनी जिस गेंद पर रन आउट हुए, उससे एक गेंद पहले न्यूजीलैंड ने फील्डिंग में बदलाव किया और 30 गज के सर्कल के अंदर सिर्फ 3 खिलाड़ी ही रह गए थे. हालांकि इस दावे की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं है लेकिन जो फील्डिंग का ग्राफिक्स सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है उसके मुताबिक 30 गज के अंदर 3 ही कीवी खिलाड़ी थे.

अगर ये बात सही है तो अंपायरों से बड़ी चूक हुई है. अगर अंपायर को इस बात का ध्यान रहता तो ये गेंद नो बॉल होती और टीम इंडिया को फ्री हिट मिलती. ऐसे में हो सकता है धोनी इस गेंद पर दो रन लेने का जोखिम भी नहीं उठाते. हलांकि ऐसा हुआ नहीं धोनी को वापस पवेलियन लौटना पड़ा.

जरुर पढ़ें:  क्रिकेट के यो-यो टेस्ट के बारे में पता है ? हर खिलाड़ी को पास करना होता है अनिवार्य
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here