रोहित शर्मा, रोहित शर्मा और सिर्फ रोहित शर्मा ही आजकल कानों में सुनाई दे रहा है, कोई भी क्रिकेट फेन अगर रोहित शर्मा का नाम ना जानता हो, वो क्रिकेट को ही नही जानता| रोहित शर्मा की धमाकेदार बल्लेवाजी की दुनिया दीवानी हैं| क्रिकेट के मैदान पर रोहित को क्रिकेट बॉल फुटबाल जैसी नज़र आती है| उनका बल्ले से बॉल टच होने के बाद तो ग्राउंड के बहार ही नज़र आती है|

Rohit Sharma

रोहित शर्मा की धूंयेदार बेटिंग ही उनके सभी फेंज की जान है,इंडिया के 2nd T20 मैच के दौरान रोहित एक बार फिर दर्शकों के दिल पर अपना कब्ज़ा जमा लिया| इस T20 मैच में रोहित शर्मा ने 43 गेंदों में 118 रन की शानदार पारी खेली, इस पारी की वजह से रोहित ने कई वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाये हैं|

जरुर पढ़ें:  इंडिया के धुरंधरों का नहीं चला जादू, पांड्या ने बचाई इज्जत : Ind Vs SA
Rohit Sharma

1.रोहित भारत के पहले ऐसे बल्लेवाज बन गये हैं जिन्होंने किसी T20 मैच में सबसे तेज शतक लगाया हो,इससे पहले ये रिकॉर्ड के. एल. राहुल के नाम था|

Rohit Sharma

2.रोहित ने इस पारी में सिर्फ 35 गेंदो 100 रन बनाये थे|इससे पहले ये रिकॉर्ड डेविड मिलर के नाम था| किसी T20 मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड भी रोहित के नाम हो गया है जोकि 118 है| वनडे में भी रोहित (264) सबसे बड़ी पारी खेलने वाले भारतीय हैं।

3.रोहित शर्मा ने इस पारी के दौरान 10 छक्के जड़े। इस पारी के साथ ही वो एक टी-20 पारी में सर्वाधिक छक्के लगाने वाले भारतीय बन गए है। इससे पहले ये रिकॉर्ड युवराज सिंह के नाम था। उन्होंने एक मैच में सात छक्के लगाए थे।

जरुर पढ़ें:  धोनी की कोपी करने चले थे पाकिस्तान के कप्तान, सोशल मीडिया ने किया जमकर ट्रोल
Rohit Sharma

4.इस मुकाबले में रोहित और राहुल ने ओपनिंग करते हुए 165 रन की साझेदारी की। श्रीलंका के खिलाफ टी-20 में भारत का ये सबसे बड़ा ओपनिंग स्टैंड रहा। इससे पहले श्रीलंका के खिलाफ भारत का सर्वोच्च ओपनिंग पार्टनरशिप 75 रन की थी। जो धवन और रोहित ने  मिलकर पिछले साल रांची में की थी।

Rohit Sharma and Virat Kohli 

रोहित के लिए 2017 खुशियों की सौगात देकर जा रहा है| इस साल रोहित ने बहुत सारे वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम किये हैं| रोहित ने इसी साल अपना तीसरा दोहरा शतक लगाकर, दुनिया में सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने वाले क्रिकेटर बन गये हैं|रोहित शर्मा की ये सेंचुरी एक और मामले में बेहद खास रही क्योंकि इस शतक के साथ ही वो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बतौर कप्तान शतक जड़ने वाले चौथे खिलाड़ी बन गए हैं।