भारतीय टीम के विस्फोटक बल्लेबाज रोहित शर्मा को कोन नहीं जानता और अब तो हर कोई उनके फैन लिस्ट में शामिल होना चाहता है। रोहित शर्मा ने अभी बीते दिनों मोहाली में श्रीलंका के साथ खेले गये वनडे मैच में अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का तीसरा दोहरा शतक लगाया, इस मैच में रोहित शर्मा ने 208 रन की शानदार नाबाद पारी खेली। इसके बाद तो रोहित ने अपने फेन्स के दिल में और बड़ी जगह बना ली है।

रोहित अपनी जिन्दगी में काफी मजाकिया स्वभाव के हैं, जिसके किस्से सुनकर अच्छे-अच्छे चक्कर खा जाते हैं । श्रीलंका में एक क्रिकेट फैन हैं जिन्हें पर्सी अंकल कहते हैं, कई साल से वो श्रीलंका टीम को सपोर्ट करते हैं। इंडिया, श्रीलंका में टेस्ट खेल रही थी और लंच ब्रेक के दौरान पर्सी अंकल टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम के बाहर आए, इस क्रिकेट फैन की एक बात काफी फेमस है कि वो हर किसी को मिलते हुए किस करते हैं। रोहित शर्मा ने यहां भी अपनी शरारत दिखाई और अजिंक्य रहाणे को ये कहकर आगे कर दिया कि पर्सी अंकल आपके बहुत बड़े फैन हैं। वो आपसे मिलना चाहते हैं। रहाणे जैसे ही पर्सी अंकल से मिले, उन्होंने रहाणे को किस किया और टीम में से किसी ने वो वीडियो बना लिया। बाद में वो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया|

जरुर पढ़ें:  आईपीएल के सीक्रेट लवर कौन है ये तो जान लीजिए

दूसरा किस्सा प्रज्ञान ओझा के साथ का है। जिसमे प्रज्ञान ओझा और रोहित शर्मा का एक दिन केन्या के Beach पर जेट स्की चलाने का मन हुआ। रोहित को पहले से ही जेट स्की चलनी आती थी, जबकि प्रज्ञान ओझा इस मामले में नए थे। जब ओझा ने जेट स्की चलाना स्टार्ट किया तो उनसे हाथ से एक्सीलेटर छूट गया और जेट स्की एक बोट से टकरा गयी और बोट में आग लग गयी। जब बोट के मालिक ने नुकसान भरने को कहा तो प्रज्ञान को कोच ने बहुत सुनाया और उनके बैग पैक करने को कहा। असल में कोच को कड़क आवाज में मजाक करने के लिए रोहित ने ही बोला था।

जरुर पढ़ें:  डेविड वॉर्नर के बल्ले ने बनाया था उन्हें वॉर्नर

लेकिन रोहित अपनी लाइफ में जितने मजाकिया स्वाभाव के हैं उतने ही वे अपने काम के प्रति सीरियस भी हैं, ये घटना उस वक्त की है जब रोहित ने अपनी क्रिकेट कोचिंग के लिए मुम्बई के बोरीबली से मक्का तक अकेले ही लोकल ट्रेन से  जाते थे। एक दिन ट्रेन से जाते वक्त उनका किट बैग गिर गया रोहित ट्रेन से उतरकर पटरियों के किनारे भागते हुए बैग को लेने के लिए दौड़ पड़े और उसे लेकर ही लौटे। रोहित की क्रिकेट के लिए इतनी दीवानगी ने ही उन्हें आज इस मुकाम पर लाकर खड़ा कर दिया है, इसी दीवानगी ने उन्हें तीन दोहरे शतक लगाने के लिए भी प्रेरित किया है।